Ek Accha Lekhak Kaise Bane | एक अच्छा लेखक कैसे बने


आज हम इस बारे में चर्चा करेंगे कि एक अच्छा लेखक कैसे बना जा सकता है। ऐसी कौन-कौन सी खुभी है, जो एक अच्छे लेखक में होनी चाहिए।  बड़ा ही सरल  है  कि  आज का युग आधुनिक युग है,  यदि आप आज के समाज में नज़र डालोगे तो आपको हर जगह मीडिया ही नज़र आएगा और मिडिया ही पुरे विश्व का चित्र बदलने में माहिर है।  अगर हम अब के और पिछले ज़माने कि बात करते है  तो हम लेखो के ऊपर ज़यादा निर्भर होते है।  उस समय जब मिडिया नहीं थी तो इन लेखो ने ही  हमारा साथ दिया था चलो अब हम इस बारे में जानते है कि एक अच्छा लेख कैसे लिखा जाता है क्योकि एक अच्छा लेख लिखने वाला ही एक अच्छा लेखक होता है।  
 
एक अच्छा लेखक कैसे बने
एक अच्छा लेखक कैसे बने

एक अच्छे लेख के लिए ज़रूरी बाते:  मे अपना लेख सफल बनाने के लिए कुछ खास बातो को ध्यान में रखना होगा।
 

* भाषा: जब भी आप अपना लेख शरू करे तो आपका सबसे पहला काम ये होगा कि आपको अपने लेख में भाषा का सही प्रयोग करना है। अगर आप कि भाषा सही होगी तो वो किसी कि भी समझ में सकती है। एक लेख में आप कभी भी ज़्यादा कठिन शब्दों का प्रयोग मत करे आप कि भाषा सरल, सहज और ---त्रुटिपूर्ण--- होनी चाहिए। आप कि अपनी भाषा पर पकड़ होनी चाहिए।    

 
Ek Accha Lekhak Kaise Bane
Ek Accha Lekhak Kaise Bane

* दृस्टि:  चलो अब दृस्टि कि और कुछ दृस्टि डालकर कुछ और बातो का ज़िकर करते है। आप जो भी लेख लिखे उसका लिखने का तरीका ऐसा होना चाहिए कि जो बात आप दुसरो को समझा रहे हो और पढ़ने वाला व्यक्ति उस को समझे अगर ऐसा नहीं हुआ तो आप के लेख लिखने का कोई फायदा नहीं होगा। और एक बात खास तौर पर आप कि नज़र हमेशा आवश्यक मुद्दो पर ही होनी चाहिए।  इन अभी चीज़ो के प्रति आप कि समझ भी विकशित होनी चाहिए।  





*शैली: आपको अपना लेख लिखते समय अपनी भाषा कि शैली पर भी विशेष ध्यान देना होगा। आप कि भाषा कि शैली भी आसान होनी चाहिए क्योकि आप कि भाषा कि शैली से ही आपके लेख में चमक आएगी और इस शैली को देखते हुए ही दूसरो का ध्यान आपके लेख कि और जायेगा शैली में एक बात का ध्यान रखिए कि आप अपने लेख को जितना हो सके रोचक बनाने कि तरफ ज़्यादा ध्यान दीजिये।



*व्याकरण: हम सभी को पता है कि जो लेख अच्छा होता है उसमे व्याकरण कि कमी नहीं होती ये चीज़ आपके लिए बहुत ज़रूरी है कि व्याकरण के लिए आप व्याकरण कि कोई अच्छी से पुस्तक का अध्यन करे।
 

*पॉकेट नोट बुक: अब आपके लिए ये चीज़ भी ज़रूरी है कि आप के पास हमेशा एक पॉकेट बुक होनी चाहिए। जब भी आप कोई भी लेख पढ़ते है या किसी *magazine* में से तो उसके जो कोई भी पॉइंट आपको अच्छे लगे या उसमे आपको दम लगे तो आप उन पॉइंट का कुछ हिस्सा अपने लेख में भी लगा सकते है।   



एक अच्छे लेखक के लिए ज़रूरी है :  कि जिस बारे में भी वो लेख लिख रहा है उस घटना को वास्तविकता के साथ जोड़ना और साहित्य को पढ़ने कि आदत डालिये हम सभी जानते है कि साहित्य  लेखन कठिन काम है  लेकिन एक अच्छे लेखक के नाते आपको इन सभी बातो का ध्यान रखना होगा।

जो लेखक होते है  उनके हौसले बुलंद होते है  और आप भी लेखक बन सकते है  अगर आप चाइये तो एक बार ट्री करके तो देखिए

Ek Accha Lekhak Kaise Bane - एक अच्छा लेखक कैसे बने 
YOU MAY ALSO LIKE


शाही पनीर कैसे बनाये





मसाला डोसा
गायत्री मन्त्र विधि और उसके फायदे



भारतीय नौजवानों जागोपासपोर्ट बनवाने का तरीका

मंत्र शक्ति का उदाहरण

1 comment:

  1. hy mera naaam bharti hai aur mei swNkha Ki rehne wali huu papa kaa naam yashpaul hai
    Meri apni life Ki real story likhne jaaaaa rahi hoo mera fig.32-28-30 hai
    .
    yeh khani jammu k swankha than ki hai Jaha sidh goria mandir hai
    agar koi galti hui jaye maaf karna
    mujhe 2015 mei akshay naam k Ladke se pyar hua but kbi bol nhi payi kyuki WO mandir me jab karta tha but kisi tarah meine apne chachu k ladke vishal ko bTaya but phir bhi usne help nhi Ki
    ek din humare gao shaddi hui waha akshay bhi ayea tha kisi tarah meine uska number liye aur phir dusre din can karke Sab bol diya aab him dono mandir me milte the aur sirf hug aur Kiss's kar pate ek din raat ko 10.30 bje mei akshay ko apne ghar le gayi but WO daar but raha tha humne hug aur kiss kiya uske baad meine akshay k saare kapde utar diye aur apne bhi. kapde uttar diya aur akshay k much mei apna niple daal diye WO bhi chote bache Ki tarah chuss raha tha phir meine usko apna Lundmeri chut me dalnene k liye kha aur uska Lund phele andar nhi jaa raha tha kisi tarah akshay me nor diya aur andar chala gayea mujhe but pain hui akshay bhi apna Lund andar bhar Marta gayea 1hr ii chudai mei mei 4 baat jaad gayi last me akshay me bhi jaad diya aur Jane laga meine use phir se bed par lita diya aur uska Lund chooosne lagi Lund phirse khada hooo gayea phir humne puri RAAt 1 se 4bje tak chudai ki aur akshay. chala gayea hum roj mandir me milte aur chudai karte aab bhi mei akshay se chudwati huuu kyuki mei akshay se bhut pyar karti huuu aur shaddi bhi karna chahti huu lekin meri family isss baat k liye mana kr rahi hai but mei akshay ki here huu
    yeh khani 2015 se shuru huu aab tak chal rahi hai

    ReplyDelete

All time Hot